Home Education Gstr 4 का एनुअल रिटर्न फाइल कैसे करें, जानिए स्टेप to स्टेप...

Gstr 4 का एनुअल रिटर्न फाइल कैसे करें, जानिए स्टेप to स्टेप…

नमस्कार दोस्तों fblogging.com में आपका स्वागत है. मैं पिछले कुछ महीनों से tally और GST and tax के बारे में आर्टिकल के माध्यम से आप लोगों को अच्छी जानकारी देने का प्रयास कर रहा हूँ. मैं एक tax adviser हूं मेरा नाम अरविंद मल्होत्रा जो कि उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले से हूं. आज में बहुत ही खास चीज बताने वाला हूं आप लोगों को जिसे जानकर आप बहुत ही आसानी से gst 4 का एनुअल रिटर्न कर सकते है मगर एनुअल रिटर्न भरने के पहले इसके बारे में जान लेता हूं . जिससे और भी आसान हो जाएगा तो चलिए सुरु करते है…

Gst 4 क्या है?

मैं इसके बारे में अपने पिछले आर्टिकल में बहुत ही आसान भाषा में बताया हूं अगर आपने नहीं पढ़ा है तो लिंक नीचे दिया गया आप क्लिक करके पढ़ सकते है..

Link

इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि इसको फाइल कैसे करे वो भी gstr 4 का एनुअल रिटर्न कैसे करे. कम्पोजिशन gstr 4 का एनुअल रिटर्न फाइल कैसे करते है.
    1. डैशबोर्ड पे आने के बाद एनुअल रिटर्न या फिर सर्विसेज पे क्लिक करे
    2. 2. एनुअल रिटर्न पे क्लिक करने के बाद अपना फाइनेंशियल ईयर सेलेक्ट करे
    3. क्लिक करने के बाद gstr 4 का एनुअल रिटर्न का ऑप्शन आएगा जिसमे आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीके से कर सकते है
    4. ऑनलाइन पे क्लिक करने के बाद आपका gstr4 एनुअल रिटर्न का फॉर्म आएगा जिसमे
    5. जिसमे सबसे पहले आप का ऑप्शन 3.aggregate turnover of previous financial year – का ऑप्शन आएगा जिसमे आप को पूरे साल का turnover फिल करना है. मतलब पूरे साल के सेल का अमाउंट भरना है जितना आप सेल किए है पूरे साल में .
    6. उसके बाद आप save option pe क्लिक कर दे इससे आपका डेटा save ho जाएगा.
    7. इसमें आपको nill रिटर्न भी कर सकते है अगर आपका कोई भी सेल नहीं हुआ है तो अगर सेल हुआ है तो आप अपना डेटा फिल करके करे. लेकिन आपको करना है क्योंकि ये अनिवार्य है.
    8. उसके बाद उसके नीचे टेबल आएगा जिसमे आपको अपने हिसाब से फिल करना होगा Select tables to add/ view details में आपका ऐसे कुछ आएगा

      4A
      4B
      4C
      4D
      5.
      6.
      7.

ये सारे ऑप्शन आयंगे जिसपे आपको अपने तरीके से फिल करना है. हम करते है 4A….
4A में जाने के बाद आपको एक टेबल मिलेगा जिसमे आपको फिल करना है क्या फिल करना है आइए जानते हैै
इसमें आपको gst वाइज मतलब supplies वाइज जैसा कि आप आप अपने सप्लायर से येक आइटम वाला कितना सामान खरीदा है वो सारा डेटा फिल करना है.

Link

मतलब आप किसी सप्लायर से येक साल में बहुत सारे सामान खरीदने है अलग अलग gst रेट पे तो उसको अलग अलग भरना पड़ेगा. और जो सप्लायर्स को येक बार सेलेक्ट करके आप उसपे सारा डेटा फिल कर सकते है और आइए जानते है.
आसान भाषा में जो आपका add details में सबसे पहले आप
I सप्लायर्स का gst number भरेंगे फिर
II ट्रेड एंड लीगल नेम आपने आप फिल हो जाएगा
III उसके बाद वह place of supply खुद से ही ले लेगा
Iv उसके बाद आपको बगल में ये प्लस का ऑप्शन मिलग्रा उसपे क्लिक करने के बाद आपका आइटम वाइज details भरना पड़ेगा.  उसमे सबसे पहले आपका Taxable value फिर Rate of GST फिर Central tax उसके बाद state tax भरना है.
ध्यान रहे gst रेट वाइज भरना है मान लो ये मेरा 5% का gst रेट पे सामान लाए है. फ़िर उसी से 12% पे लाए है और फिर 18% पे लाए है. तो उसको करने के बाद लास्ट में फिर प्लस का ऑप्शन पे क्लिक करे और फिर 12% वाला आइटम फिल करे और फिर 18% वाला भरे. अगर येक ही gst रेट पे सारा माल लाए है तो पूरे माल का taxable value डाल के gst रेट सेलेक्ट करके central tax और state tax भरके येक साथ में आप भर सकते है
फ़िर करने के बाद उसको save कर लेना है.
इतना करने के बाद आपको कुछ बातो को ध्यान रखना होगा जैसे कि I अगर आप किसी कम्पोजिशन पर्सन से पर्चेस करते है. तो उसका डेटा भी 4A में भरा जाएगा क्योंकि वो भी येक रजिस्टर पर्सन है इसलिए Gst रेट आप 0% भरना है बस II अगर आप किसी रजिस्टर पर्सन से पर्चेस किया है और पर्चेस रिटर्न भी किया है तो उस केस में आप को nil करना है मतलब आप पर्चेस और पर्चेस रिटर्न को घटा के जितना होगा उतना करना है
अब आइए 4B पर 4B. Inward supplier form registed supplier (reverse charge)
इसमें रजिस्टर पर्सन से RCM पर्चेस वाला भरना है.

RCM क्या है?

ट्रांसपोर्ट सर्विस पे जो टैक्स लगता है वो RCM लगता है और RCM तब लगता है जब को ट्रांसपोर्टर आपको बिल्टी देता है कंसाइनमेंट नोट कहते है. बिल्टी तभी मिलती है जब आपका 750 रुपए से अधिक किराया हो.
अगर ट्रांसपोर्टर रजिस्टर्ड है और आपके किराए पे जीएसटी लिया है तो RCM नहीं लगेगा क्योंकि पहले ही जीएसटी ले लिया है. लेकिन सप्लायर्स आपके किराए पे जीएसटी नहीं लिया है और ट्रांसपोर्टर रजिस्टर्ड है तो आपके किराए पे मतलब जितना आपका किराया है उसपे 5% टैक्स लगेगा RCM बहुत सारे पर RCM टैक्स लगता है
जैसे काजू, बीड़ी का पत्ता और बहुत सारे है.

अब आते है 4C पर (Inward supplier form unragisted supplier)

इसमें किसी भी unragisted पर्सन से goods या service लिए है तो उसका डेटा इसमें फिल करते है
इसमें पूरा अमाउंट टोटल करके फिल करना होगा.

फ़िर आगे 4D. Import of service

इसमें बहुत कम केस होते है. अगर आप कोई service का आयात किए है तो भर सकते है.

फ़िर टेबल 5.

Summary of cmp-08 इसका डेटा अपने आप फिल हो जाएगा 08 का उसको आप चेक करके save करे.

फ़िर आपका 6. ऑप्शन (Tax rate wise inward and outward supplier)

इसका भी डेटा ऑटोफिल हो जाएगा इसको भी चेक करके save कर दे
अब आपका लास्ट ऑप्शन 7. (Tds\tcs credit received)
इसमें अगर कुछ रेट होगा तो अपने आप सो करेगा इसमें कुछ करने की जरूरत नहीं है
फ़िर आपका पूरा डेटा save हो गया है. अगर आप अपने डेटा को चेक करना चाहते है तो आप बैक जाके चेक कर सकते है. नहीं तो आगे आए नीचे ऑप्शन है Proseed to file पर क्लिक करे फ़िर आपको पूरे डेटा का रिव्यू मिलेगा उसको आप केयरफुल चेक कर ले और अगर आप चाहे तो उस डेटा को pdf पे डाउनलोड कर सकते है.
फ़िर आप continue करे. उसके बाद उस कम्पनी के प्रोपराइटर का नाम सेलेक्ट करके file gst4 पर क्लिक करे करने के बाद आप file with EVC पर OTP के लिए क्लिक करे उसके बाद otp फिल करने के बाद आपका gstr 4 file हो गया ।
इस आर्टिकल से रिलेटेड या फिर tax and account se रिलेटेड से कुछ भी पूछना हो तो आप कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके पूछ सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Bollywood के Top 10 अभिनेता, जानिए इनकी कुल संपत्ति

1. शाहरुख खान शाहरुख खान का जन्म 2 नवंबर 1965 में हुआ था ।यह एक भारतीय अभिनेता है। यह अक्सर मीडिया की सुर्खियों में बने...

Gstr 4 का एनुअल रिटर्न फाइल कैसे करें, जानिए स्टेप to स्टेप…

नमस्कार दोस्तों fblogging.com में आपका स्वागत है. मैं पिछले कुछ महीनों से tally और GST and tax के बारे में आर्टिकल के माध्यम से...

दुनिया के 10 सबसे अमीर व्यक्ति…..

विश्व की जानी-मानी पत्रिका Forbes हर क्षेत्र के अमीर लोगों की सूची जारी करती है। यह सूची कंपनियों के कारोबार की कमाई के आधार...

Bollywood की 10 सबसे अमीर actress, जो करती सबके दिलो पर राज

आजकल के समय में india की फिल्म इंडस्ट्री बॉलीवुड के नाम से जानी जाती है। तथा यह आजकल के youth के दिलो-दिमाग में छाई...